शोखियाँ..

तुम्हारी निगाहों की वो चंद शोखियाँ,
मेरी शराब को भी नशे में डुबाती रही।
सर्द हवा के झोंकों के साथ ही सही,
तुम याद मुझे हर बरस आती रही।

#दिलसे

Flame

aaj ki shairi

Just like that

reach out and touch someone.....

Umesh Kaul

Traveler!!!! on the road

What do you do Deepti

Exploring madness***

आज सिरहाने

लिखो, शान से!

abvishu

जो जीता हूँ उसे लिख देता हूँ

angelalimaq

food, travel and musings of a TV presenter

Bhav-Abhivykti

This blog is nothing but my experiences of life and my thoughts towards the world.

Ruchi Kokcha Writes...

The Shards of my Self

%d bloggers like this: